8 Things to Know Before Buying Life Insurance in Hindi

Be Careful Before Buying an Insurance Policy

हम सब अपने परिबार का भला चाहते हैं | हम सब अपने परिवार के भविष्य को लेकर चिंतित रहते हैं , लेकिन क्या आपको पता है कि आप की इतनी चिंता का कुछ लोग फायदा उठाते हैं | 

हम सब चाहते हैं कि हमारे पास अच्छी Insurance Policy  रहे जिससे अगर हमको कल को कुछ हो जाए तो हमारा परिवार सुरक्षित रहें | हमारी इसी चिंता का फायदा कुछ ऐसे Insurance Agent  उठाते हैं , जिन पर हम भरोसा करते हैं | 

तो आज हम जानेंगे कुछ ऐसे धोके , जो आप Insurance Agent  से खा सकते हैं |  क्या वह सावधानियां है ? जो आपको Insurance लेते समय रखनी है | और बहुत कुछ …….. 

आज insurance के बारे में बहुत अनसुनी चीज़ें बताऊंगा जो आपको शायद और कोई नहीं बताएगा जो आपने पहले कभी नहीं सुना होगा | 

मैं बहुत चीजे insurance Agent  के बारे में भी बोलूंगा | लेकिन यहां से बात का ध्यान रखना जरूरी है, कि मैं सारे insurance Agent  के खिलाफ नहीं हूं | 

मैं उन लोगों के बिलकुल खिलाफ नहीं हूं , जो लोगों को अच्छी insurance policy select करने में मदद करते हैं ,उन्हें पैसा दिलाने में मदद करते हैं | 

अगर वह  इतनी मेहनत करता है , बदले उसे इंश्योरेंस थोड़े से पैसे मिल रहे हैं, तो उसमें कुछ गलत नहीं है | 

उन लोगों के बारे में बताऊंगा जो आपके इस भरोसे का गलत फायदा उठाते हैं और ७-८ कुछ ऐसे तरीके बताऊंगा जिससे कुछ लोग आपको धोखा देते हैं | 

चलिए जानते हैं उन कुछ लोगों के बारे में जो  आपको धोखा देते हैं | 

1.Offline insurance ले या online?

अगर आप सोच रहे हैं कि insurance offline देना चाहिए या online | 

तो आप  offline लीजिए ऐसा Agent बोलेंगे , क्यूंकि इससे आपको claim मिलने के chances बढ़ जाएंगे | online में  insurance तो सस्ता होता है , लेकिन Claim नहीं मिलता | 

यह अपवा कुछ लोग फैलाते हैं , यह मैं आपको आज बता देना चाहता हूं बिल्कुल बिल्कुल भी नहीं है | 

Online  में ,क्यूंकि Direct Plan  होते हैं | उसमें Agent को Comission  नहीं जाता ,तो ऐसे में  ऑनलाइन में प्रीमियम काफी कम आता है ,और कम प्रीमियम में अगर सेम इंश्योरेंस पॉलिसी मिल रही है तो यह तो अच्छी बात है | 

हाँ ,अगर आप बहुत ज्यादा इंटरनेट Friendly नहीं है | आपको कोई ऐसा इंसान चाहिए जो आपके लिए सारा Paper Work  कर दे, जो आपके लिए चेक डिपाजिट कर दे ,पॉलिसी में आपको Remind कराता रहे , कब आपको Premium  भरना जरूरी है |

ऐसे में offline Agent रकना जरुरी है |  लेकिन अगर आपको लगता है कि आप ऑनलाइन खुद Manage कर सकते हैं तो काफी सस्ता पड़ेगा | ऐसा बिल्कुल भी नहीं है ,ऐसे में claim मिलेगा या नहीं मिलेगा ऐसा कुछ नहीं है | 

2 Agent Sell You a Different Investment Policy

अगर आपको invest  करनी हो तो कई Insurance Agent आपको ULIP   बेच देंगे Mutual Fund बताकर | यह ULIP अच्छा है या बुरा इस बहस में नहीं जा रहा , लेकिन ULIP Mutual Fund नहीं है ,और ऐसे में अगर कोई एजेंट बोल रही है”यह ले लीजे यह भी Mutual Fund है ” यह बेखावा देना ,धोका देना गलत बात है | ULIP एक अलग है ,और इसका अछाइआ  और बुराइआ बताइए और ग्राहक को Decide करने दीजिए | 

जैसे ULIP के कुछ चीजें मुझे पसंद नहीं है | पहेली उसमे 5 साल का lock in होता है  | Normal म्यूच्यूअल फण्ड में कोई lock in नहीं होता  है | आप आज पैसा लगाके कल निकल सकते हो | ULIP में अप्प पैसा लगाके अगला 5 साल तक पैसा निकल नहीं सकते  | यह lock in के बारे में कहीं बार ग्राहक को बताया नहीं जाता है | 

ULIP पे Portfolio  रहती है कि कहां कहां Investment हो रहा है ,वह बहुत ज्यादा transparent नहीं होती है | आपको हर महीने,यह आसानी से पता नहीं चलता कि आपका पैसा कौन से Stock में लग रहा है  | Mutual Fund में  पता लगाना बहुत आसान होता है | तो ऐसे में मुझे Mutual Funds की transparency पसंद है|  

3.Charges

हलाकि सस्ते ULIPs भी है लेकिन ,कहिबार कुछ ULIP plan काफी महंगी होती है | ULIPs में charges भी transparent  नहीं है | अलग अलग तरीके के बहुत सरे charges  है | Mutual Fund में एक ही Charge  है (Expence Ratio ) कोई Confusion  नहीं है | 

हालांकि ULIP इतनी सस्ते मिल सकते है ,लेकिन कही बार इतनी सस्ते नहीं होते | तो ऐसे में User को indentify करना की ,यह ULIP सस्ता है या नहीं ,कितना % charge देना पड़ रा है। इहे समझना तोडा मुश्किल हो जाता है | 

अगर आपको कोई ULIP में निबेश करबा रहा है ,वोह  आपको सच सच कहे की इहे ULIP है | फिर अपना Decision  ले | 

कही बार लोगों  से सुनता  हूँ “Bajaj allianz का Mutual  funds  है “| तो अब बजाज कंपनी भी माने की ,उनका जो प्लान है Mutual  Fund  नहीं है ULIP  है ,उसमे Investment का साइज ज्यादा है ,लेकिन है तो ULIP ही है | इस तरह की जो Differences  है ,यह Agent को Clearly  पता होना चाहिए | 

यह ज्यादातर उन लोगों के साथ होता है ,जो बिल्कुल भी Awareness नहीं है की  insurance काम कैसे करता है | कुछ Agent को मैंने देखा है कि ,अ गर उनका Clients  उनके पास जाए और उनसे बोले कि “मुझे Policy Surrender करनी है या  Policy Mature  हो गई , जो Money Back का वादा किया गया था, वह दे दीजिए | “

कुछ Agent ,जब आप उनके पास जाएंगे ,तो वह इहे शर्त लगा लेते हैं कि ,”अगर आपको आपका पैसा वापस चाहिए तो आपको एक हमसे नई पॉलिसी करानी पड़ेगी | या फिर Charges लेते हैं किसी ना किसी बहाने से | 

यह करना बिल्कुल गलत है ,अगर आपको Claim दिलवाने में या Money Back आना था, वह दिलवाने में आनाकानी कर रहा है | तुरंत उसको Change कर दीजिए | 

4.Life Insurance Policy Only for Earning Member

 अक्सर insurance Agent ज्यादा Policy बेचने के चक्कर में आपके परिवार में सभी लोगों का Life Insuurance करवा देते हैं |  वह कहते हैं कि ” आपके बच्चों का भी होना चाहिए ,आपका Parents का होना चाहिए ”  अगर आपका Agent इस तराका कुछ करबा रही  है ,तो यह बिल्कुल बिल्कुल गलत है ,और उसका कोई Justification नहीं है | 

Life insurance हमेशा घरके Earning Member का कराया जाता है | जो आपके घर में salary या Bussines से पैसा लाता  है, उनका कराया जाता है | क्यूंकि उनको कुछ हो जाए तो परिवार की आर्थिक स्थिति गड़बड़ा हो ना जाए ,इसके लिए Life  insurance होता है | 

ऐसे में अगर आप घर में बच्चों या बुजुर्गों के लिए जीवन बीमा करा रहे हैं तो यह बिल्कुल भी सही नहीं है।

तो सिर्फ इसलिए,आपका agent केहेरा रहा कि “सबका life insurance होना चहिये ” 

यह बिल्कुल भी सही नहीं है | हाँ ,Health Insurance सबका होना चाहिए ,क्यूंकि बीमार तो कोई भी पड़ सकता है | 

5. Insurance Amount Should Be Limited

कभी-कभी हमारे पास 4-5 जीवन बीमा होता है | एक Agent  ने आपकी 2  Policies की. दूसरे ने आप में से 3 की, तो यह आपका ही नुकसान है। अधिक Over Insurance allowed नहीं है, इसका मतलब है कि आप कितना भी Insurance  करा लें, आपको अपनी वार्षिक आय का केवल 20 गुना ही मिलेगा | 

आपकी  salary  साल का  5 लाख फासते है तो आप Maximm  1 Crore रुपए का Life Insurance ले सकते हैं | आप चाहे तो अलग-अलग Agent  से दो करोड़ ,तीन करोड़ ,चार करोड़ का ले ले ,लेकिन आपको सारी insurance कंपनियां कुल मिलाके  एक करोड़ तक का ही insurance Money  देंगे , उससे ज्यादा नहीं | 

तो यह जब  Agent Policies भेजते हैं , यह नहीं देखते कि पहले से आपका कितनी Insurance Policies है ,और ऐसे में आप को Maximum  इंश्योरेंस कितना मिल सकता है  | 

कई बार आपको कुछ लोग सिर्फ अपनी Commission  के चक्कर में आपको insurance करवा देते हैं  और ज्यादा Premium देना पड़ता है | 

इस तरीके को बिल्कुल ना होने दें | ध्यान रखिए कि आपका लाइफ इंश्योरेंस 

आपका सालाना income  से २० गुना ,इसेज्यादा न हो  | 

6. Know Insurance Details as Soon as Possible

जब कोई  insurance Policy लेते हैं | IRDAI ने Pre Lock-in Period रखा है | यानिकि ,आपने पॉलिसी खरीदी ,पॉलिसी आपको इशू हो गई ,उसके बाद आपके पास 15 दिन का समय होता है | 

आपको Policy Documents को अच्छे से पढ़ ले ,उसके Terms & Conditions जान लो और उसके बाद अगर आपको लगे कि, यह पॉलिसी आपको पसंद नहीं आ रही ,तो आप उसे Return कर सकते हैं | 

आपको पूरा का पूरा प्रीमियम Refund आ जाएगा | इहे ऐसे है की Amazon से ख़रीदा ,आपको पसंद नहीं आया आपने वापस कर दिया और आपको पैसा वापस मिल जाता है | 

तो यह हर insurance policy  में होना कंपलसरी है | लेकिन कुछ लोग बदले में क्या करते हैं ,आपका policy  issue होइ 1 तारीख को , Company या Agent आपको policy Documents देते ही नहीं ,आपको Documents मिलता है १६ तारिक को | ऐसा इसलिए आप  Policy डिटेल्स जान न पाए | 

एक चीज का  ध्यान रखिए, आप  जब भी पॉलिसी लेते हैं ,चाहे कितनी भी विश्वसनीय व्यक्ति से Policy लेते है ,उनसे बोलिये ,जैसे ही पालिसी issue हो ,  चाहे तो Email पे या Hard  Copy दे | आपको 15 दिन के भीतर  बताना है आपको policy चाही है की नहीं  | 

7 Take a Simple Basic Premium

Comission के चक्कर में Money Back Plan .Bonus Plan पता नहीं क्या-क्या बताते है ,Insurance Documents को इतना Complex बना देते हैं की,आम इंसान को समझ नहीं आता है | इतनी Complex Insurance के लिए ना  जाये | Insurance Policy में ज्यादा Return देख रहे हैं ,Return कभि भी ज्यादा  अच्छा नहीं होगा | इसे  अच्छा कम premium वाला Basic insurance Plan ले | और आपको लगता है और invest करना है तो Mutual fund में लगाए |

तो insurance और Investment को मिक्स करने की कोशिश ना  करे | जैसे में कही लोगो को देख ता हूँ ,लोगो का महीने का Premium 10 -15  हजार अलग अलग insurance Policy  में देते हैं | 

8 Fill the Form Yourself

हमेशा अपनी पॉलिसी का जो फॉर्म है वह बहुत ध्यान से भरे  | अक्सर लोग उसे अपने Agent  को भरने दे देते हैं या किसी बैंक वाले को पढ़ने दे देते हैं | इससे क्या होता है कि ,अगर कुछ भी गलती हो गई, कुछ भी चीज जो भरनी चाहिए थी, कोई डिस्क्लोजर जो आपको देना चाहिए था ,वह आपने नहीं दिया, और Policy में इंसफिशिएंट या गलत Details चली गई, तो कल को आपको क्लेम नहीं मिलेगा | 

चाहे आप अपने एजेंट से Form Fill up  करवा रहे हैं या Online  फॉर्म फिल करवा रहे हैं ,इसमें Online वाले भी कोई अच्छे नहीं है | 

वह बोलते हैं ,”आप  फोन में बोलते जाइए , हम Fill up कर देंगे | उनकी ना सुने, आप उनसे बोलिए कि Fill  हम करेंगे , तो कभी भी किसी और को आप का Insurance Form  भरने ना दे | थोड़ी सी गलती हो गई ,कल को यह कंपनी के पास बहाना हो जाएगा ,Claim ना देने का | 

तो Policy  को बहुत ध्यान से Fill Up करे |



Leave a Comment