350+ Words Short Essay on Honesty in Hindi for Class 6,7,8,9 and 10

ईमानदारी पर निबंध

परिचय

ईमानदारी (Honesty) अच्छे गुणों में से एक है। ईमानदार व्यवहार का अर्थ है ऐसा व्यवहार जो छल-कपट से मुक्त हो। ईमानदारी सच्चाई पर आधारित है। यह सभी प्रकार के बुरे मकसद से मुक्त है।

लाभ (Advantages)

यह कहा जाता है, “ईमानदारी सबसे अच्छी नीति है”। क्योंकि अगर हम ईमानदार होंगे तो लोग हम पर विश्वास करेंगे। वे हमारे शब्दों और व्यवहारों को महत्व देंगे। एक ईमानदार दुकानदार को बेईमान दुकानदार से ज्यादा ग्राहक मिलेंगे।

बेईमान दुकानदार कुछ लोगों को कुछ समय के लिए धोखा देकर मुनाफा कमा सकता है। इसलिए ईमानदार आदमी की तरक्की होती है जबकि बेईमान आदमी गिर जाता है। ईमानदार व्यक्ति का सम्मान सभी करते हैं।

समाज में उनका अच्छा स्थान है। ईमानदार व्यक्ति जीवन के सभी क्षेत्रों में आगे बढ़ते हैं। इसलिए कहा जाता है कि ईमानदारी सबसे अच्छी नीति है।

नुकसान (Disadvantages)

ईमानदारी की कुछ सीमाएँ होती हैं। हम ईमानदार लोगों के साथ ही ईमानदारी का सौदा कर सकते हैं। लेकिन हम परेशान होंगे, अगर हम बेईमान लोगों के साथ ईमानदारी से पेश आएं। तो, एक कहावत है, “तत के लिए तैसा”। बेईमानी से बेईमानी का सामना करना चाहिए।

बेईमान लोगों के साथ ईमानदारी से व्यवहार करना बहुत आदर्शवादी हो सकता है। लेकिन यह साध्य नहीं है। यह काफी अव्यवहारिक है। लेकिन आधुनिक समाज में जहां तक ​​संभव हो ईमानदार होना चाहिए। चूंकि

आधुनिक भारतीय समाज कालाबाजारी, जमाखोरी, मुनाफाखोरी, मिलावट, छल, छल और धोखाधड़ी का समाज है। कीचड़ उछालना और टांग खींचना आज का क्रम है

. निष्कर्ष

ईमानदारी एक गुण है। यदि सभी लोग ईमानदार हो जाएं तो हमारा समाज एक आदर्श समाज होगा। विद्यार्थी को अपने दैनिक जीवन में ईमानदार बनने का प्रयास करना चाहिए। क्योंकि छात्र देश का भविष्य हैं।

इसलिए, उनसे अपेक्षा की जाती है कि वे अपने लिए एक ईमानदार समाज का निर्माण करें और अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए ईमानदारी की परंपरा छोड़ दके जाए ।



Leave a Comment