हिन्दी निबंध लेखन | Nibandh Lekhan Format

निबन्ध लेखन  निबन्ध का अर्थ है – अच्छी तरह बंधा हुआ। इसमें लेखक अपने भावों और विचारों को अच्छी तरह बाँधकर यानी सुसंगत और सुगठित रूप से अपनी भाषा शैली में प्रस्तुत करता है। इसमें उसे अपनी बात खुलकर कहने की छूट रहती है। निबंध विषय और स्तर के अनुसार छोटा या बड़ा हो सकता … Read more

विराम चिन्ह किसे कहते है? Viram Chinh Kise Kahate Hain ?

विराम चिह्न  (Viram Chinh) विराम चिन्ह की परिभाषा | विराम चिन्ह कितने प्रकार के होते हैं ? वाक्यों, उपवाक्यों, वाक्यखण्डों अथवा शब्दों के बीच रुकने का नाम विराम है। लिखित सामग्री पढ़ते समय लेखक के अभिप्राय को ठीक ठीक समझने के लिए हम जहाँ रुकते हैं,  वहाँ विराम चिह्न लगाते हैं। ‘विराम चिह्न’ निम्न प्रकार … Read more

वाक्य किसे कहते हैं ? Vakya Vichar in Hindi Grammar

वाक्य विचार  वाक्य जिन पदों को एक साथ बोलकर वक्ता अपना विचार या भाव पूरी तरह व्यक्त करे, उसे वाक्य कहते हैं।  वाक्य के अंग  वाक्य में पद, पदबंध और उपवाक्य आदि अंग रहते हैं। पद वाक्य में प्रयुक्त होने पर शब्द ‘पद’ कहलाता है। पदबंध वाक्य में एकाधिक पद परस्पर संबद्ध होकर एक इकाई … Read more

अव्यय किसे कहते हैं ? What Is Avyay in Hindi Grammar?

अव्यय  वाक्य में कुछ पद होते हैं, जिन पर लिंग, वचन, कारक, पुरुष, काल का कोई प्रभाव नहीं पड़ता । अर्थात्, इनका कोई परिवर्तन या विकार नहीं होता। ऐसे पदों को अविकारी या अव्यय पद कहते हैं। अव्यय चार प्रकार के हैं।  (1) क्रिया विशेषण  (2) संबंधबोधक  (3) समुच्चयबोधक  (4) विस्मयादिबोधक  क्रिया विशेषण क्रिया की … Read more

काल किसे कहते हैं ? | What Is Kal in Hindi Grammar ?

काल  क्रिया घटित होने के समय को काल कहते हैं। क्रिया हो चुकी है तो वह भूतकाल है। होनी है, तो भविष्यत् काल है और हो रही है तो वर्तमान काल है।  काल के कितने भेद होते हैं ? अतएव क्रिया के तीन काल हैं ।  (1) भूतकाल  (2) वर्तमान काल  (3) भविष्यत् काल  भूतकाल  … Read more

क्रिया किसे कहते हैं ? | What Is Kriya in Hindi Grammar ?

क्रिया  जिस पद से किसी कार्य के करने या होने का बोध होता है, उसे क्रिया कहते हैं । जैसे-  पढ़ना, जाना, लिखना, दौड़ना आदि।  क्रिया के मूल रूप को धातु कहते हैं। जैसे – पढ़, जा, लिख, दौड़  क्रिया के कितने भेद होते हैं ? क्रिया के भेदों में से कुछ प्रमुख भेदों पर … Read more

विश्लेषण का अर्थ? | What Is Visheshan in Hindi Grammar?

विशेषण  (Visheshan) विशेषण किसे कहते हैं? विशेषण के कितने भेद होते हैं ? संज्ञा या सर्वनाम की विशेषता बतानेवाले शब्द को विशेषण कहते हैं। इसके चार भेद होते हैं –  (1) गुणवाचक (2) संख्यावाचक 3) परिमाणवाचक (4) सार्वनामिक   (1) गुणवाचक विशेषण –   ये संज्ञा के गुण आदि का बोध कराते हैं  गुण – अच्छा … Read more

सर्वनाम किसे कहते हैं ? | What Is Sarvanam in Hindi Grammar ?

सर्वनाम  सर्वनाम का अर्थ है – सभी संज्ञाओं के लिए प्रयुक्त होनेवाला नाम;  जैसे –  मोहन जाता है। वह एक अच्छा लड़का है।  सर्वनाम वाक्य में कर्त्ता, कर्म और पूरक के स्थान पर आ सकते हैं; जैसे –  कर्त्ता  – वह जाता है।  कर्म  –  उसको बुलाओ ।  पूरक  – वह कौन है ?  लिंग … Read more

What Is Karak in Hindi ? | कारक किसे कहते है ?

कारक विभक्ति ( परसर्ग )  हम जानते हैं :  एक वाक्य में क्रिया-पद के साथ दूसरे पदों का सीधा संबंध होता है। इसके अलावा पदों का पारस्परिक संबंध भी होता है। यह संबंध ‘कारक’ कहलाता है। इस संबंध को जानने के लिए जिन कारक चिह्नों का प्रयोग होता है, उन्हें हिन्दी में विभक्ति या परसर्ग … Read more

हिन्दी भाषा में वचन कितने प्रकार के होते हैं?और उदाहरण | Vachan in Hindi

वचन (Vachan) वचन किसे कहते हैं ? संज्ञा के जिस रूप से संख्या का बोध होता है, उसे वचन कहते हैं ।  हिन्दी भाषा में वचन कितने प्रकार के होते हैं ? हिन्दी में वचन दो प्रकार के हैं: एकवचन और बहुवचन  एकवचन: एकवचन से एक व्यक्ति या पदार्थ की सूचना मिलती है।  बहुवचन : बहुवचन … Read more